हिन्दी
返回

लेख

首页

A+ A A-

返回

चीनी कंपनी हायर भारत में स्थिरता से बढ़ रही है

2019-10-11 16:32:00

विश्व में दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाले देश और नवोदित बाज़ार अर्थव्यवस्था होने के नाते इधर कुछ साल भारत ने कई चीनी उद्यमों की नज़र अपनी ओर खींचा। उनमें से मशहूर चीनी होम अप्लाइंस कंपनी हायर शामिल है। हायर वास्तव में वर्ष 2004 में भारतीय बाज़ार में उतरी है। निरंतर कोशिशों से हायर ने भारतीय बाज़ार में न सिर्फ़ आय में तेज़ वृद्धि पूरी की ,बल्कि संबंधित स्थानीय व्यवसाय के विकास को भी बढ़ावा दिया है ।हाल ही में नई दिल्ली स्थिति सीआरआई के संवाददाता ने हायर भारत कंपनी के महाप्रबंधक हुआंग त छंग के साथ एक विशेष साक्षात्कार किया ।

वर्ष 2004 में भारतीय बाजार में आने के प्रारंभिक काल की चर्चा में हुआंग त छंग ने बताया कि उस समय बहुत कठिन था और ग्राहकों में अविश्वास भरा था ।याद करते हुए उन्होंने बताया ,शुरू में अधिकांश भारतीय उपभोक्ता और डीलर हमारे ब्रांड पर अविश्वास का रुख़ अपनाते थे। उनकी नज़र में चीनी ब्रांड और चीनी उत्पाद कम कीमत और बुरी गुणवत्ता का पर्याय ही था ।उपभोक्ता हमारे उत्पाद स्वीकार नहीं करते। सो उस समय सचमुच मुश्किल था। मुझे याद है कि एक बार हम एक डीलर से मिले ।हम ने कुल 6 या 7 बार बात की। उसने हमसे एक बहुत कम कीमत प्रस्तुत की और शर्तें भी कठोर थीं ।प्रारंभिक समय में सवाल एक के बाद एक उभरता था।

इस अविश्वास के पीछे भारतीय बाज़ार के विशेष कारण थे। चीन में लोकप्रिय हायर के उत्पाद भारत की ठोस स्थिति के अनुकूल नहीं थे। भारत में पानी का प्रेशर और बिजली वोल्टेज चीन में जैसे स्थिर नहीं है। इस तरह हायर के रेफ्रिजरेटर और वॉशिंग मशीन जैसे उत्पाद भारत में अक्सर खराब होते थे। भारत में तेज़ गर्मी के दिनों की संख्या चीन की तुलना में काफी ज्यादा है। इसलिए हायर एयर कंडिशनर अक्सर ठप्प हो जाते थे।